header image

उफ़ ये उलझन

यह प्यार है या कंट्रोल?

पायल (16) और साहिल (16) रिलेशनशिप में थे और वे दोनों आपस में सब कुछ शेयर करते थे; यहाँ तक कि अपने पासवर्ड भी। जब भी पायल अपने दोस्तों से मिलती या किसी लड़के की फोटो लाइक करती तो साहिल को बहुत जलन महसूस होती। पायल को ये बहुत अच्छा लगता था कि वो उसकी इतनी फ़िक्र करता है। क्या वो सही थी? क्या यही प्यार है?

फोटो: Shutterstock/insta_photos/फोटो में व्यक्ति मॉडल्स हैं और नाम बदल दिए गए हैं। 

क्या जलन अच्छी है?

पायल के लिए यह एक मुश्किल साल था। ऑनलाइन कक्षाएँ, घर के कामों में मदद और सबसे ज़रूरी साहिल के साथ अपने रिश्ते को संभालना।

पायल ने पिछले साल लॉकडाउन से पहले साहिल को डेट करना शुरू किया था। वह सच में उसकी बहुत फ़िक्र करता था। और जब उसके दूसरों से बात करने पर साहिल जलता था तो उसे ये कहीं ना कहीं अच्छा भी लगता था। लेकिन कभी कभी उसे लगता था साहिल को शांत भी रहना चाहिए!

फ़रवरी कापहला वीकेंड था और पायल ने अपने दोस्त के घर जाने का प्लान बनाया था, जिसमें उसके सभी करीबी दोस्त आ हो रहे थे। लेकिन साहिल का सुबह सुबह फ़ोन आ गया और वो उस पर चिल्लाने लगा।

“तुमने मुझे बताया क्यों नहीं पायल? मैं तुम्हारा बॉयफ्रेंड हूँ, मुझे ये सब पता होना चाहिए”, साहिल चिल्लाया।

“सॉरी साहिल, मैं तुम्हे इसके बारे में बताना भूल गयी”, पायल ने माफ़ी माँगी। वो साहिल के चिल्लाने से डर गयी थी।

“नहीं ये गलत बात है। अच्छा मुझे ये बताओ की क्या वहाँ कोई लड़का भी आ रहा है?” साहिल ने पूछा।

“हाँ, ऋषभ और अकुल, मेरे बचपन के दोस्त”, पायल ने जवाब दिया, जानते हुए कि वो कैसे जवाब देगा।

“क्या? सच में? क्या तुम ये सिर्फ लड़कियों के साथ पार्टी नहीं कर सकती? लड़के क्यों? क्या मैं तुम्हारे लिए काफी नहीं हूँ?” साहिल अब और ज़ोर से चिल्ला रहा था।

“लेकिन वे मेरे बचपन के दोस्त हैं, साहिल। तुम उनकी तुलना खुद से क्यों कर रहे हो?” पायल ने निराश स्वर में कहा।

“और मैं तुम्हारा बॉयफ्रेंड हूँ, और अगर तुम सच में मुझसे प्यार करती  हो तो तुम मत जाओ। हम लैपटॉप पर बैठ कर सारा दिन बातें करेंगे”, साहिल ने प्यार जताते हुए कहा।

पायल सारा दिन घर बैठ कर थक गई थी। वह सच में अपने दोस्तों से मिलना चाहती थी लेकिन जिस तरह से साहिल ने उसे ब्लैकमेल किया, उसने प्लान कैंसिल करने का फैसला किया। वो साहिल को होने वाली जलन को अक्सर महसूस करती थी और पहले उसका ऐसा बर्ताव उसे प्यारा लगता था। साहिल उससे प्यार करता था और नहीं चाहता था कि वह किसी और के साथ घूमे।

लेकिन आज वह यह सोच कर बहुत निराश थी कि वो इतने समय बाद अपने दोस्तों से नहीं मिल पाएगी। अपनी ही भावनाओं से परेशान होकर उसने अपना फ़ोन सोफ़े पर फेंक दिया और अपना चेहरा तकिये में डाल कर बैठ गई। उसे ऐसा करते उसकी बड़ी बहन महिमा ने देखा।

“पायल तुम्हें अपने दोस्तों के साथ जाने के लिए तैयार नहीं होना है?” महिमा, जो कुछ दिनों के लिए उसके पास रहने आई थी, ने पूछा।

 “ना दी। मुझे अच्छा नहीं लग रहा है, मैं घर पर ही रहूँगी”, पायल ने परेशान स्वर में उत्तर दिया।

“पर क्यों? तुम पूरे हफ्ते इस दिन का इंतज़ार कर रही थी। तुम ठीक तो हो ना?” महिमा ने पूछा।

“मैं ठीक हूँ, चिंता मत करिये। यह साहिल और नार्मल व्यवहार है। मुझे पता है कि वह मुझे बहुत पसंद करता है मुझे खुश होना चाहिए, पर पता नहीं क्यों मुझे गुस्सा आ रहा है।”

क्या जीजू को आपका पासवर्ड पता है?

“क्या ऐसा कुछ है जो तुम मुझे बताना चाहती हो? मेरा मतलब है तुम मुझे कुछ भी बता सकती हो”, महिमा ने कहा और पायल के लिए बस यही सुनना काफी था।

वह रो पड़ी। महिमा ने उसे गले लगाया और उसके साथ बैठ गई। उसने उसे पानी दिया। कुछ देर बाद पायल बोली।

“दी, क्या मैं आपसे कुछ पूछ सकती हूँ?” पायल ने सोफे पर लेटते हुए कहा।

“क्या छोटी?” महिमा ने पानी की बोतल टेबल पर रखते हुए जवाब दिया।

“अगर आप अपने दोस्तों से मिलने और घूमने जाते हो, तो क्या आपको इसके लिए पहले जीजू से बात करनी पड़ती है या उनकी इजाज़त लेनी पड़ती है?” पायल ने पूछा।

महिमा इस सवाल पर उलझन में थी लेकिन उसने जवाब दिया।

“इजाज़त? नहीं, पायल! तुम उसे जानती हो ना! हम दोनों इन चीजों को लेकर बहुत चिल है। मैंने बस उसके साथ ये शेयर किया कि मैं आज बाहर जा रही हूँ, बस। क्या वो मुझसे इजाज़त लेता है? क्या तुमने कभी ऐसा देखा? हम बस एक दूसरे को बताते हैं जैसे तुमने मुझे बताया कि तुम बाहर जाने वाली हो”, महिमा ने जवाब दिया।

“सही। मुझे बताओ, क्या मोहक जीजू कभी आपका फोन चेक करते हैं? या आपका फेसबुक पासवर्ड माँगते हैं?” पायल ने पूछा।

“उसने कभी ऐसा नहीं किया। और ना ही मैंने। ऐसा करना ही क्यों? हम कभी भी एक दूसरे की प्राइवेसी में दखल नहीं देते”, महिमा ने जवाब दिया।

“लेकिन एक अच्छे रिलेशनशिप में तो हम सब कुछ शेयर करते हैं ना? यहाँ तक कि अपने पासवर्ड भी। कोई सीक्रेट नहीं”, पायल अब उलझन में थी।

“मुझे ऐसा नहीं लगता। एक दूसरे पर भरोसा करना और उन्हें स्पेस देना भी बहुत ज़रूरी है…”, महिमा ने जवाब दिया लेकिन पायल ने उसकी बात काट दी।

“लेकिन क्या आप कभी ये जानने के लिए उत्सुक नहीं होती कि वो अपने फ़ोन पर क्या करते हैं? उनके मैसेज या ईमेल?” पायल ने पूछा।

“मैं ऐसा क्यों सोचूंगी? मुझे मोहक पर भरोसा है और वह भी मुझ पर भरोसा करता है। हम एक कपल हैं पर हमारी अपनी निजी ज़िन्दगी भी है। मेरे अपने दोस्त हैं और उसके अपने। और अगर मुझे कभी ऐसा लगता है तो मैं सीधा उससे पूछ लेती हूँ, सिंपल!” महिमा ने जवाब दिया। इतने में घंटी बजी और महिमा दरवाजा खोलने गई।

“हाँ, सिंपल”, पायल ने आह भरी और याद किया कि कैसे साहिल बार बार उससे उसके पासवर्ड माँग रहा था जो उसे शुरुआत में अच्छा नहीं लगा था पर साहिल का कहना था कि,”हमारे बीच कोई भी राज़ नहीं होने चाहिए”।

परवाह नहीं कंट्रोल

जब महिमा वापस लौटी, तो पायल ने साहिल के बारे में उसके साथ सब कुछ शेयर किया कि वह कितना गुस्से वाला था, कैसे वो दोस्तों से मिलने पर जलता था और अब खुश रहने के बजाय उसे कैसा लग रहा था। महिमा इस बात से हैरान थी कि प्यार के नाम पर उसकी छोटी बहन को कितना दर्द, शर्मिंदगी और कंट्रोल झेलना पड़ रहा है। उसने पायल को एक स्वस्थ रिश्ते के बारे में समझाया।

“अगर तुम एक ऐसे रिश्ते में हो जो तुम्हे ख़ुशी से ज़्यादा परेशान और उदास महसूस करता है तो तुम्हे इससे जल्दी से जल्दी बाहर आ जाना चाहिए। किसी की निजी ज़िंदगी में दखल देना बिलकुल भी सही नहीं है और तुम्हे किसी को भी ऐसा करने का मौका नहीं देना चाहिए। अगर इसमें सिर्फ शक और ब्लैकमेल के बाते होती हैं तो ये एक बहुत टॉक्सिक रिश्ता है”, महिमा ने कहा।

पायल ये सब बहुत ध्यान से सुन रही थी। उसका रिश्ता प्यार नहीं था, बल्कि बस कंट्रोल था। साहिल ने उसके साथ जो किया वह उसे नियंत्रित कर रहा था, उसकी परवाह नहीं। यह प्रेम नहीं है, वह समझ गई।

“एक रात में इस लगाव और अपनी भावनाओं को भूलना थोड़ा मुश्किल है पर इसे खत्म करना तुम्हारी मेन्टल सेहत के लिए अच्छा रहेगा और तुम्हे मेन्टल थकान से बचाएगा। इसलिए सोच समझ कर ही अपना कदम उठाना”, महिमा ने कहा और पायल को गले लगा लिया। पायल मन बना चुकी थी कि वह साहिल से रिश्ता तोड़ेगी और आज अपने दोस्तों से मिलने जाएगी।

फोटो: Shutterstock/insta_photos/फोटो में व्यक्ति मॉडल्स हैं और नाम बदल दिए गए हैं। 

क्या आपके मन में कुछ है? नीचे कमेंट बॉक्स में हमारे साथ शेयर करें। याद रखें कि कोई भी व्यक्तिगत जानकारी कमेंट बॉक्स में न डालें। 

एक टिप्पणी छोड़ें

आपकी ईमेल आईडी प्रकाशित नहीं की जाएगी। अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *

टैग

#AskDisha #canteentalk #दिषासेपूछ exam pressure safety stress teamwork आकर्षण कमिंग आउट कहानीमेंटविस किशोरावस्था कैंटीन टॉक क्रश गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड बनाने का दबाव जीवन हमेशा के लिए बदलने वाल टीनएज लव ट्रांसजेंडर डाइवोर तनाव दबाव दर्दनाक पीरियड्स दिशा से पूछें परीक पहली किस का दबाव #एक्सपर्टसेपूछें पीरियड्स पीरियड्स में दर पीरियड्स में दर्द के कारण प्यार प्यार में धोखा प्रेशर बुलइंग मम्मी-पापा अलग हो रहे ह मम्मी-पापा का डाइवोर माहवारी में दर मेरे बॉयफ्रेंड ने मुझे चीट किआ यौन उत्पीड़न यौन शिक्षा यौनिकता शिक्षक यौवन लड़कियों को अकेले बाहर जाने की अनुमति क्यों नहीं दी जाती ह लड़कों और लड़कियों के बीच अलग-अलग व्यवहार किया जाता ह लड़कों के साथ अलग-अलग व्यवहार क्यों किया जाता ह लड़कों को हर तरह से मजा क्यों करना चाहिए सभी दोस्तों की गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड ख़राब मूड