header image

साइंस लैब

हमें स्मार्ट क्या बनाता है?

कभी सोचा है कि आपके स्कूल का टॉपर दूसरों की तुलना में ज़्यादा बुद्धिमान कैसे है? जहाँ आप स्ट्रग्गल कर रहे होते हैं वही कोई और मैथ्स में अच्छा क्यों होता है? कोई ऐसी सिचुएशन में शांत कैसे रह सकता है जहाँ आप अपना गुस्सा कंट्रोल नहीं कर पाते! टीनबुक आ गया है आपकी मदद के लिए!

हमें स्मार्ट क्या बनाता है

बुद्धिमान मै

हमारा दिमाग, सच में, अद्भुत हैं! वह प्रॉब्लम को हल करने और समाधान खोजने की कॉम्प्लेक्स और मेहनती मशीन हैं। हम सभी अपने हर काम के लिए अपने दिमाग का इस्तेमाल करते हैं चाहे – बड़ा या छोटा। फिर, हर कोई एक जैसा क्यों नहीं होता? गणित कुछ के लिए मुश्किल और कुछ के लिए आसान क्यों होता है?

इसका आधा जवाब छुपा है हमारी आईक्यू (IQ) में, जिसे हम बुद्धिमत्ता भी कहते हैं। आईक्यू एक स्कोर है जो हमे कुछ ऐसे सवालों के जवाब देकर मिलता है जिन्हें हमारी मानसिक क्षमता टेस्ट करने के लिए बनाया गया होता है। आपका स्कोर जितना अधिक होगा, आपका आईक्यू भी उतना अधिक होगा और आप उतने होशियार होंगे।

हमारी बुद्धि को आकार देने में हमारे जीन महत्वपूर्ण रोल निभाते हैं। तो आप अपनी “स्मार्टनेस” के लिए अपने मम्मा-पापा को थैंक्स बोल सकते हैं। हालाँकि जीन्स ही सब कुछ नहीं होते। क्योंकि असली “ज्ञानी” बनने के लिए सिर्फ जीन्स ही काफी नहीं।

भावुक मै

 रीसर्च से पता चलता है कि आईक्यू टेस्ट ज़्यादातर एनालिटिकल और मेमोरी की परीक्षा लेता है, ना की प्रैक्टिकल या रचनातमक क्षमता (क्रिएटिव एबिलिटीज) की। इसलिए, किसी एक की बुद्धि को मापने के लिए पूरी तरह से उन पर निर्भर होना सबसे अच्छा विचार नहीं है। तो यहाँ आता है EQ – यानी हमारा इमोशनल कोशेंट। 

वैज्ञानिकों ने EQ या एक भावनात्मक क्षमता पैरामीटर बनाया है। उदाहरण के लिए, आप रियल लाइफ स्तिथियों को कैसे संभालते हैं या दूसरों के आसपास, अपने दिमाग का इस्तेमाल करके, कैसे रीऐक्ट करते हैं – यह सब भी एक मैथ्स प्रॉब्लम सॉल्व करने से ज़्यादा ज़रूरी हो सकता है। आप असफलता, रिजेक्शन या यहां तक ​​कि जीतने जैसी स्थितियों को कैसे संभालते हैं – आपके EQ को दर्शाता है।

जब जीवन में खुश और सफल होने की बात आती है, तो भावनात्मक बुद्धि बहुत मायने रखता रखती है; कभी-कभी आपकी बौद्धिक क्षमता से भी ज़्यादा ।

मुझे क्या होशियार बनाता है?

  • यह मानसिक बुद्धिमत्ता (IQ) और भावनात्मक बुद्धिमत्ता (EQ) का मिक्सचर है जो हमे हमारे जैसा बनता है। लेकिन याद रखें कि यह ही सब कुछ नहीं है। और भी बहुत सारे फैक्टर्स है और हम अपने सामने आने वाली प्रोब्लेम्स और चैलेंजेज़ को कैसे संभालते हैं ही हमारी स्मार्टनेस तय करता है, जो समय के साथ बदल भी सकता है । हम किसी स्थिति को संभालने में होशियार हो सकते हैं और वहीं अगली स्तिथि हमे बहुत मुश्किल लग सकती है। लेकिन यहाँ कुछ सुझाव दिए गए हैं जिनसे आप एक मजबूत और शांत दिमाग विकसित कर सकते हैं।
  • अगर बात मस्तिष्क की की जाये, तो यह कहा जाता है कि “आप वही हैं जो आप खाते हैं”। सही खाने से आपके दिमाग को बेहतर काम करने में मदद मिलती है। आपके ब्रेन के लिए ये बात बिलकुल सही बैठती है। मम्मा-पापा जो बादाम, अखरोट और हरी सब्ज़ियां खाने को कहते हैं वो हमारे दिमाग के ग्रे मैटर को पोषण देकर उसे बेहतर काम करने में मदद करता है।
  • आपके ब्रेन को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए देखभाल, प्यार और खुशहाल वातावरण बेहद मददगार होता है। तनाव या चिंता हमारी सोच को धुंधला कर सकती है जिसकी वजह से हमारा ज़रूरी बातों से ध्यान हट सकता है। ऐसे मुश्किल दिनों में आपके साथ खड़े रहने वाला परिवार और दोस्त आपकी बहुत मदद कर सकते हैं। याद रखें! एक पॉजिटिव रवैया और खुशनुमा विचार हमेशा हमें आगे बढ़ाते हैं।
  • आपका ब्रेन आपके शरीर की हर दूसरी मांसपेशी की तरह है, इसे भी व्यायाम की ज़रूरत है, इसलिए इसे चुनौती दें! पहेलियाँ, क्रॉसवर्ड्स, पढ़ना, क्विज़ या कुछ नया सीखना आपको बेहतर बनाने और अपने आईक्यू को बेहतर बनाने के कुछ शानदार तरीके हैं।
  • आपके दिमाग को तेज रखने के लिए उचित आराम की भी ज़रूरत होती है। सही मात्रा में नींद आपके ब्रेन को अधिक 
  • कुशल बनाने के लिए रिचार्ज करता है। ध्यान, संगीत या सिर्फ रिलैक्स करना (अपने दिमाग को आराम देना) भी इसे ताजा रखने में मदद करता है।
  • आप इतने सारे गैजेट्स जैसे कि मोबाइल फोन, टैबलेट और कंप्यूटर डेस्क टॉप से घिरे हुए हैं । गैजेट्स के अत्यधिक उपयोग से हमारी ब्रेन सेल्स को नुकसान पहुंच सकता है जो हमारी याददाश्त और ध्यान को प्रभावित करता है। गैजेट्स से निकलने वाली रेडिएशन्स दिमाग के स्वास्थ्य के लिए अच्छी नहीं होती है। यदि आप होशियार रहना चाहते हैं, तो सप्ताहांत पर अपने आप को डिजिटल रूप से डिटॉक्स करें और गैजेट के लिए अपने एक्सपोज़र को दिन में 2-4 घंटे तक सीमित रखें।

मुझे क्या होशियार बनाता है

क्या आपके पास साइंस लैब के लिए कोई प्रश्न हैं? उन्हें नीचे टिप्पणी बॉक्स में पोस्ट करें। हम अपने आगे के आर्टिकल्स में उनका जवाब देंगे। कृपया कोई पर्सनल जानकारी न डालें।

एक टिप्पणी छोड़ें

आपकी ईमेल आईडी प्रकाशित नहीं की जाएगी। अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *

टैग

#AskDisha #canteentalk exam pressure safety stress teamwork अच्छे दोस्त चुन आकर्षण एंग्जायटी कमिंग आउट कहानीमेंटविस किशोर लड़कों का शरीर किशोरावस्था कैंटीन टॉक क्रश गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड बनाने का दबाव जीवन हमेशा के लिए बदलने वाल टीनएज लव टीनएज वाला प्यार ट्रांसजेंडर डाइवोर डिप्रेशन तनाव दबाव दिशा से पूछें परीक पहली किस का दबाव #एक्सपर्टसेपूछें पीरियड्स प्यार प्यार में धोखा प्रेशर बुलइंग मम्मी-पापा अलग हो रहे ह मम्मी-पापा का डाइवोर मेरे बॉयफ्रेंड ने मुझे चीट किआ यौन उत्पीड़न यौन शिक्षा यौनिकता शिक्षक यौवन लड़कियों को अकेले बाहर जाने की अनुमति क्यों नहीं दी जाती ह लड़कों और लड़कियों के बीच अलग-अलग व्यवहार किया जाता ह लड़कों के साथ अलग-अलग व्यवहार क्यों किया जाता ह लड़कों को हर तरह से मजा क्यों करना चाहिए सभी दोस्तों की गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड ख़राब मूड