‘मैं पॉपुलर बनना चाहता हूं’

By: Sanya Ghai

अर्जुन स्कूल में सबसे लोकप्रिय ग्रुप का हिस्सा बनना चाहता है। रिया भी! लेकिन उनके बाकी दोस्त पॉपुलर ग्रुप के पीछे उनके जुनून को नहीं समझते।

मैं पॉपुलर बनना चाहता हूं

तुम लूज़रज़ के साथ नहीं!

रिया, अर्जुन, यश और दामिनी करीबी दोस्त हैं। वो लोग साथ खड़े होकर गॉसिप कर रहे थे जब उन्होंने अपने एक क्लासमेट को टेबल की तरफ जाते देखा और वो सब उसकी तरफ देखने लगे।

सनाह कितनी कूल है, उसका हेयरस्टाइल तो देखो! और युवेन, उससे तो मेरी नज़र ही नहीं हटती," श्रेया ने उन सब से कैंटीन की तरफ बढ़ते हुए कहा। 

"काश, हम उनके जैसे होते - स्कूल के "कूल गैंग"! मैं दिखता तो अच्छा हूँ पर क्योंकि मैं तुम लूज़र्स के साथ रहता हूँ, कोई मेरी तरफ देखता भी नहीं है!” अर्जुन ने कहा।

"लूज़र! वो तुम हो, हम नहीं!" दामिनी ने तुरंत जवाब दिया, वह कुछ और कहने वाली थी, लेकिन वह रुक गई। वह सोचने लगी कि अर्जुन उस पॉपुलर ग्रुप की तरह क्यों बनना चाहता है।

हाय इतना स्टाइलिश

सॉरी डैम्स, मेरा वो मतलब नहीं था। मैं कह रहा था, स्कूल में हर कोई हमेशा इस बारे में बात करता रहता है कि कैसे सारा कितनी स्टाइलिश है, अरिन कितना मजाकिया है या युवेन कितना गुड लुकिंग है! वो सच में मुझे टाइगर श्रॉफ की याद दिलाता है।अर्जुन ने लम्बी सास भरी।

"तो?" दामिनी ने पूछा।

मुझे उनके जैसी जिंदगी चाहिए! युवेन की इंस्टाग्राम पर काफी ज़्यादा फॉलोइंग है! यहाँ तक कि उसके पास एक्स-बॉक्स के साथ अपने कमरे में एक बड़ा टीवी भी है, जहाँ वो सबको वीकेंड पर खेलने के लिए भी बुलाता हैअर्जुन ने कहा।

"लेकिन वो तुम्हें अच्छे से जानता भी नहीं है," यश ने बीच मे कहा, "इसके अलावा, मेरे पास एक्सबॉक्स नहीं है लेकिन पिछले हफ्ते जब तुम मेरे घर आए थे तो हमने साथ मे कितना मज़ा किया था। इसके अलावा एग्जाम टाइम में तुम्हारा कौन ध्यान रखेगा! कौन उस टेंशन की झेलेगा, बोल! ” यश ने अर्जुन को कोहनी मारते हुए कहा।

"पर मैं सनाह की तरह स्टाइलिश बनना चाहती हूँ देखो उसके सिल्की बाल यार! स्कूल का हर लड़का उसे पसंद करता है। यहां तक कि टीचर्स भी,” श्रेया ने कहा।

लेकिन सनाह डिबेटिंग चैंपियन है, मैथ्स ओलंपियाड की टॉपर और बास्केटबॉल भी खेलती है। इसलिए शिक्षक उसे पसंद करते हैं। उसके स्टाइल के लिए नहीं, ” दामिनी ने कहा।

"हाँ, सही कहा ", श्रेया ने आह भरी। " इस सब के पीछे उसकी बहुत सारी मेहनत है!"

गोलगप्पों के बिना नहीं

"एक और बड़ी दिक्कत और भी है! अगर हम पॉपुलर ग्रुप मे होते, तो हम बाहर राम भैया से गोलगप्पे नहीं खा पाते। वे तो गोलगप्पो के नाम से ही नाक मुँह सिकोड़ते!" रिया ने इसे इतनी गंभीरता से कहा कि सभी को उसके मज़ाक को समझने में एक मिनट लगा। और फिर सब की हंसी छूट गयी!

'कभी नहीं! मैं राम भैया के गोलगप्पों को कभी नहीं छोड़ सकती!” श्रेया ने कहा। "अर्जुन, तुम ही जाओ उनकी पॉपुलर गैंग मे, ओके!"

"ठीक है, ठीक है, मैं समझ गया तुम लोग क्या कहना चाहते हो। तुम सब मेरे बचपन के दोस्त हो और मुझे सबसे ज़्यादा जानते हो। और वो मुझे किसी और से नहीं मिल सकता! लूज़र वाले कमेंट के लिए सॉरी! मेरा मतलब वो नहीं था।" मुझे किसी और के साथ रहने का कोई शौक नहीं है, सिवाय उस नई लड़की नव्या के!” अर्जुन मुस्कुराया और सब लोग हँसने लगे।

क्या! पर पिछले हफ्ते तक तो तुम्हारी क्रश जिया थी ना?,” दामिनी ने कहा और अर्जुन शरमा गया!

अर्जुन के सफाई देने से पहले ही स्कूल की घंटी बज गयी और सारे दोस्त क्लास की तरफ बढ़ गए।

क्या आप भी स्कूल के सब से लोकप्रिय ग्रुप का हिस्सा बनना चाहते हैं? अपना एक्सपीरियंस नीचे कमेंट बॉक्स में शेयर करें। याद रखे कभी भी कोई पर्सनल इनफार्मेशन कमेंट बॉक्स में ना डालें। 

क्या आप भी स्कूल के सब से लोकप्रिय ग्रुप का हिस्सा बनना चाहते हैं

What's Your Reaction?

like
1
dislike
0
love
0
funny
1
angry
0
sad
0
wow
0