क्या पीरियड्स में बदबू आती है?

By: Umeza Peera

आलिया(12) की दोस्त मीरा को उसके पहले पीरियड्स हुए। उसके दोस्तों को लगता है कि मीरा को सबसे पहले पीरियड्स इसलिए हुए क्योंकि उसका वज़न थोड़ा ज़्यादा है। क्या यह सच है? आलिया अपनी बड़ी बहन शिखा से पूछती है। आपको क्या लगता है उसने क्या कहा?

क्या पीरियड्स में बदबू आती है

क्या इसीलिए?

"दीदी, अगर मैं तुमसे कुछ पूछूँ तो तुम मुझ पर चिल्लाओगी तो नहीं?" आलिया ने अपनी बहन शिखा से पूछा जब वह बिस्तर के दूसरी तरफ बैठ कर एक किताब पढ़ रही थी। वैसे शिखा को पढ़ते समय डिस्टर्ब होना पसंद नहीं था, लेकिन आज आलिया से रुका नहीं गया।

“उफ़ अब क्या चाहिए तुम्हे? बायो की ड्राइंग में मदद या नई बुक के लिए कुछ पैसे?” शिखा ने रूखे स्वर में पूछा  

"नहीं दीदी, कुछ और बात है", आलिया ने धीरे से कहा।

"ठीक है, नहीं चिल्ल्लाऊँगी, अब बोलो”,  शिखा ने जवाब दिया और अपनी किताब बंद कर दी।

"तो, आज मेरी क्लासमेट मीरा को पहली बार हुए। श्रुति कह रही थी कि उसे पीरियड्स जल्दी इसलिए हुए क्योंकि उसका वज़न थोड़ा ज़्यादा है”, आलिया ने कहा।

शिखा ने अपनी किताब एक तरफ रख दी, आलिया का हाथ अपने हाथ में लिया और कहा, “नहीं आलिया, पीरियड्स का वज़न से कोई लेना-देना नहीं है। पीरियड्स लड़कियों के लिए प्यूबर्टी का एक हिस्सा है और पीरियड्स का आना ज्यादातर प्यूबर्टी की समय रेखा  पर पर निर्भर करता है, जो सबके लिए अलग हो सकती है।”

क्या इससे बदबू आती है?

"ओह अच्छा ये ठीक है। क्या मै आपसे कुछ और सवाल कर सकती हूँ”, आलिया ने पूछा जैसे ही शिखा फिर अपनी किताब उठाने लगी।

" लगता नहीं कि मेरे पास और कोई चॉइस है।", शिखा ने मुस्कराते होकर कहा। "कहिये!" 

“दीदी, क्या पीरियड ब्लड गंदा होता है? मेरे दोस्तों का कहना है कि इससे बदबू आती है। और इसीलिए मीरा स्कूल नहीं आई, क्योंकि सबको पता चल जाएगा ...”, आलिया लगभग फुसफुसाई।

"नहीं आलिया, यह सच नहीं है। पीरियड ब्लड खून की तरह ही होता है जो सिर्फ चोट लगने पर निकलता है। यह गंदा नहीं है! योनि (वैजाइना) से निकलने वाला खून वही होता है जो गर्भवती होने पर उस बच्चे को पोषण देता। अगर वो इतना नुकसानदायक होता तो हम ज़िंदा कैसे होते?!” शिखा ने जवाब दिया।

"हम्म, सही कहा!", आलिया बोली।

हाँ, कुछ मामलों में योनि (वैजाइना) क्षेत्र में नमी के कारण कुछ अजीब स्मेल आ सकती है। लेकिन यह यह किसी और को पता नहीं चलती! " शिखा ने कहा।

"शुक्र है! मुझे तो चिंता होने लगी थी।, आलिया ने कबूल किया।

यह वक़्त है साथ का 

"मुझे अच्छा लगा की तुम इन सब सवालों के साथ मेरे पास आई। पर मुझे मीरा के लिए बुरा भी लग रहा है”, शिखा ने कहा।

"क्यों? उसके पीरियड्स की वजह से?" आलिया ने थोड़ा उलझन महसूस करते हुए पूछा।

"नहीं। इसलिए नहीं! लेकिन ये सोचकर कि वो इस सब में कितना अकेला फील कर रही होगी। तुम सब को उसके वज़न और बाकी चीज़ों का मज़ाक उड़ाने की जगह उसके साथ रहना चाहिए था", शिखा ने बिलकुल एक बड़ी बहन की तरह उसे डाँटा।

"सॉरी दी, मैं उस ग्रुप का हिस्सा नहीं थी। मैंने तो बस ये कहीं से सुन लिया था", आलिया ने धीरे से कहा।

"हम्म्, लेकिन कल जब तुम स्कूल जाओगी तो सबकी गलत फहमी दूर करना और पीठ पीछे बात करने से भी मना करना। और अगर मीरा कल स्कूल आती है तो उसे कम्फर्टेबल महसूस कराना। ठीक है?" शिखा ने आलिया को समझाया।

“हाँ दीदी मैं ऐसा ही करुँगी। पिंकी प्रॉमिस”, आलिया ने मुस्कुराते हुए कहा।

“मुझे तुम पूरा भरोसा है”, शिखा ने कहा।

“मुझसे बात करने के लिए थैंक्स दी । मुझे नहीं पता मैं तुम्हारे बिना क्या करती”, आलिया ने अपनी बहन को लाड़ लगाते हुए कहा।

“मैं हमेशा तुम्हारे साथ हूँ। अब जाओ अपना होम-वर्क करो और मुझे अपनी किताब पढ़ने दो”, शिखा ने कहा और आखिरकार उसे अपनी किताब पर लौटने का मौका मिल गया।

यह वक़्त है साथ का

क्या आपके पास कोई सवाल है जो आपको परेशान कर रहा है? नीचे कमेंट बॉक्स में हमारे साथ शेयर करें। याद रखें! टिप्पणी बॉक्स में कोई गंदे शब्दों का इस्तेमाल या पर्सनल जानकारी ना दें।

What's Your Reaction?

like
6
dislike
0
love
1
funny
2
angry
1
sad
0
wow
4