सुरक्षित रहना: इन बातों का ध्यान रखें

By: Team TeenBook

आरव, सारा और उनके दोस्त अपने अपने रोज़मर्रा के काम खुद से करने के लिए उत्साहित हैं! लेकिन कुछ चीजें हैं जो उन्हें इस टाइम का आनंद लेने के लिए ध्यान में रखनी चाहिए। आइए जानते हैं क्या हैं वे बातें।

सुरक्षित रहना: इन बातों का ध्यान रखें

आसान नहीं है, दोस्त!

मैं अपनी ट्यूशन  क्लॉस से कल घर वापस जा रहा था


मैं अपनी ट्यूशन  क्लॉस से कल घर वापस जा रहा था। तभी एक व्यक्ति ने मुझे किसी तरह की सिगरेट बेचने की कोशिश की। मैं वापस भागा और हाँफते हुए घर पहुँचा। मुझे पक्का तो नहीं पता लेकिन मुझे लगता है कि मेरे दोस्त भी स्कूल में उसके बारे में बात कर रहे थे। 

मुझे भी कल एक डरावना अनुभव हुआ


मुझे भी कल एक डरावना अनुभव हुआ। निशा के घर से लौटते समय एक व्यक्ति मेरा पीछा कर रहा था  मैंने घर आकर माँ को इसके बारे में बताया। लेकिन मुझे अभी भी उसके बारे में सोच के घबराहट होती है 

  सुरक्षित रहना

  • जब हम छोटे होते हैं, हमारे माता-पिता या रखवाले हमें हर चीज से बचाते हैं।
  • जैसे-जैसे हम बढ़ते हैं, हम धीरे-धीरे स्वतंत्र होने लगते हैं।
  • हमें अपने दिन-प्रतिदिन के कार्य करने में अपने माता-पिता या किसी से समर्थन की आवश्यकता कम होती है – जैसे कि ट्यूशन जाना या किसी  दोस्त से मिलना।
  • जब हम चीजों को अधिक स्वतंत्र रूप से करना शुरू करते हैं, तो हमें खुद का बचाव सीखने की भी जरूरत होती है।
  • जैसे हमारे घर या आस-पास की सुरक्षा के लिए हमारे पास बाड़, दरवाज़े और दीवारें हैं, वैसे ही हमें भी अपनी सुरक्षा करने की जरूरत है।

अच्छा नहीं लगता 

हम्म… .मैं इन दिनों बास्केटबॉल क्लास जाना पसंद नहीं करती

हम्म… .मैं इन दिनों बास्केटबॉल क्लास जाना पसंद नहीं करती रोहन की वजह से अब यह बिल्कुल भी मज़ेदार नहीं है क्योंकि जब मैं ड्रिबल कर रही होती हूँ वह जानबूझकर मेरे करीब आने की कोशिश करता है और दूसरे दिन उसने मेरा हाथ पकड़ने की भी कोशिश की। ऐसा लगता है जैसे पूरी क्लॉस मुझे उससे बचने मे खर्च करनी होगी

   ये उत्पीड़न है  

    • कभी-कभी आपको ऐसी स्थिति का सामना करना पड़ सकता है जब कोई व्यक्ति आपको असहज महसूस कराने की कोशिश करता है।
    • कोई भी व्यवहार जो आपको बुरा या असहज महसूस कराता है, जैसे, अपमानजनक शब्द, शरीर को  गलत तरह से छूना, मारना या ऐसा कुछ करने के लिए मजबूर करना, इसे आप उत्पीड़न कहते हैं।
    • यह जानना ज़रूरी है कि आपको कब परेशान किया जा रहा है और उन लोगों से बात करें जिन पर आप भरोसा करते हैं।
    • यदि आप या आपके किसी परिचित को उत्पीड़न का सामना करना पड़ता है, तो आप नीचे लिखे हुए कार्य करने पर विचार कर सकते हैं:
      1. सख्ती से उस व्यक्ति को “ना” कहें ।
      2.  स्कूल में होने पर स्कूल अधिकारियों से शिकायत करें।
      3. अपने माता-पिता या एक विश्वसनीय बड़े से बात करें।
      4.  बिल्कुल भी हिचकिचाहट या शर्मिंदा महसूस न करें। यह तुम्हारी गलती नहीं है।
      5. अपने स्कूल के काउंसलर से बात करें।

असली, नकली?

मेरा एक नया दोस्त है। उसका नाम है - जैज़

मेरा एक नया दोस्त है। उसका नाम है - जैज़ -13। ठीक है, मुझे पता है कि यह उसका असली नाम नहीं है। लेकिन हम ऑनलाइन मिले और वास्तव में उससे बात करके मुझे बहुत अच्छा लगा। अब हम अक्सर अपना पसंदीदा फाइटर गेम एक साथ खेलते हैं और घंटों चैटिंग करते हैं। कल उसने अपनी पालतू बिल्लियों की तस्वीरें मुझे दिखाईं वे बहुत प्यारी थीं ! फिर उसने मुझसे मेरी तस्वीर मांगीमैं उसे अपने कुत्ते बुज़ो के साथ वाली अपनी फोटो भेज दूँगी !

   ऑनलाइन सुरक्षा

  • इंटरनेट एक शानदार जगह है - सीखने और अपने दोस्तों के साथ जुड़ने के लिए।
  •  हालाँकि, इंटरनेट पर कुछ अनचाही और खतरनाक स्थितियाँ हो सकती हैं।
  • ऑनलाइन उत्पीड़न का अनुभव आप किसी जानकार से भी सकते हैं और अजनबियों से भी।
  •  इंटरनेट पर अनचाही स्थितियों के कुछ उदाहरण हैं – कोई आपकी तस्वीर पर घटिया कमेंट्स कर रहा है, कोई नकली प्रोफ़ाइल बना रहा है, कोई शर्मनाक तस्वीर या वीडियो पोस्ट कर रहा है या आपके बारे में झूठ बोल रहा है।
  •  इस व्यवहार के लिए शब्द 'साइबरबुलिंग' है।
  •  कोई भी व्यक्ति साइबर हमले में शामिल हो सकता है। यह एक अजनबी या कोई ऐसा व्यक्ति हो सकता है जिसे आप जानते हैं।
  • साइबरबुलिंग से खुद को बचाने के कुछ तरीके हैं -
  1. ऑनलाइन अपने फोन नंबर, पते या पासवर्ड जैसी व्यक्तिगत जानकारी किसी से शेयर न करे।
  2.  अजनबियों से ऑनलाइन बात करने से बचें।
  3.  यदि आप किसी व्यक्ति को अच्छी तरह से नहीं जानते हैं तो अपनी तस्वीरें उससे शेयर न करे।
  4.  यदि आप साइबर अपराध या उत्पीड़न का सामना करते हैं, तो अपने माता-पिता, शिक्षकों या एक विश्वसनीय बड़े से बात करें। 

बस, सिर्फ एक बार!

मैंने अपने दोस्तों को उस आदमी के बारे में बताया

मैंने अपने दोस्तों को उस आदमी के बारे में बताया, जिसने मुझे स्कूल के बाहर सिगरेट बेचने की कोशिश की थी। आशीष ने कहा, ‘क्या तुमने वो ट्राय किया? लो करके देखो मेरे पास एक पड़ी है! '

मुझे यकीन नहीं था कि मुझे क्या करना है।अगर मेरे माता-पिता को पता चला तो क्या होगा! मेरे कुछ अन्य दोस्त कोशिश करने के लिए काफी उत्साहित थे। ‘अरे सिर्फ एक बार!’, उन्होंने कहा।

 

  ड्रग्स को ना कहे    

  • ऐसा समय सकता है जब आप कुछ ऐसा करने के लिए दबाव महसूस करते हैं जो आप करना नहीं चाहते हैं।
  • ड्रग्स सेवन का तात्पर्य शराब और नशीले पदार्थों सहित साइकोएक्टिव (psychoactive) पदार्थों के हानिकारक उपयोग से है।
  • कुछ कानूनी रूप से उपलब्ध पदार्थ हैं - जैसे सिगरेट और शराब जबकि कुछ अवैध हैं, जैसे ड्रग्स।
  • ये चीज़े आपको कुछ पल की ख़ुशी का अहसास करा सकती हैं, लेकिन यह हमारे शरीर को नुक्सान पहुँचाती हैं, जैसे कि सिरदर्द, उलटी आना, जलन, बेहोशी और फेफड़ों को नुकसान।
  • 18 साल से कम उम्र मे सिग्रेट पीना और 21 साल से कम उम्र मे शराब पीना अवैध है। हालांकि न्यूनतम उम्र हर प्रांत में अलग हो सकती है।
  • किसी भी प्रकार के ड्रग्स को अपने पास रखना पूरी तरह से अवैध है।
  • स्वस्थ और सुखी जीवन के लिए सही चुनाव करना ज़रूरी है!
  • ड्रग्स के बारे में डिसिशन लेने के लिए हमें इसके फायदे और नुक्सान पता होने चाहिए। .

 वायरस और...!

कल मैंने फेसबुक और इंस्टाग्राम पर विश्व एड्स दिवस के बारे में कुछ पोस्ट देखे

कल मैंने फेसबुक और इंस्टाग्राम पर विश्व एड्स दिवस के बारे में कुछ पोस्ट देखे। मैं समझ गई  कि एड्स एचआईवी नामक वायरस के कारण होता है। लेकिन मुझे जानकारी नहीं थी कि यह कैसे होता है या कैसे फैलता है। यह थोड़ा चिंताजनक था क्योंकि इसका कोई इलाज नहीं है।

.

    सावधान रहकर बचे 

  • कुछ संक्रमण और बीमारियाँ ऐसी हैं जो यौन संपर्क से फैल सकती हैं, जिन्हें यौन संचारित रोग (एसटीडी) और यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) कहा जाता है।
  • वे कई अलग-अलग बैक्टीरिया और वायरस और यहां तक ​​कि छोटे कीड़े के कारण होते हैं।
  • किसी ऐसे व्यक्ति के साथ यौन संपर्क बनाने से, जिसे कि पहले से कोई संक्रमण है, हमें भी यह संक्रमण हो सकता है।  
  • कुछ एसटीआई / एसटीडी गैर-संपर्क संपर्कों – जैसे सुइयों, तौलिए या स्नान के कारण भी हो सकते हैं।
  • सौभाग्य से एसटीडी / एसटीआई को इन उपायों से रोका जा सकता है: उदाहरण के लिए,
    1. हाइजीनिक प्रथाओं का पालन करना, अंडरगारमेंट या तौलिए शेयर करने से बचें।
    2. अनचाहे गर्भ और STD/STI के जोखिम को कम करने के लिए कॉन्डोम का उपयोग करें।

बस अब और नहीं!

हम कुछ समय पहले ही दार्जिलिंग से आए

हम कुछ समय पहले ही दार्जिलिंग से आए। यहाँ बहुत गर्मी है। लेकिन सच कहूँ तो यह सबसे बुरी बात नहीं है। मुझे अपने नए स्कूल से नफरत है क्योंकि ऐसा लगता है जैसे यहाँ के लोग कभी बाहर के लोगों से मिले ही न हों । हर दिन मुझे स्कूल में परेशान किया जाता  है, कभी वे मुझे खेल के मैदान में अलग नामों से बुलाते हैं, तो कभी मुझे कैंटीन में धक्का देते हैं या मुझे बस में परेशान करते हैं। और यह बढ़ता ही जा रहा है

  बुलइंग को कहे - ना!

  • बुलइंग किसी के प्रति अनचाहा और हिंसात्मक व्यवहार को कहा जाता है; जिसे ना कहना ज़रूरी है ।
  •  यह एक ऐसा व्यवहार है जिसे लोगों द्वारा बार बार दोहराया जाता है ।
  • इसमें धमकी देना, अफ़वाह फैलाना, चिढ़ाना, किसी पर शारीरिक या मौखिक रूप से हमला करना और किसी को जानबूझकर ग्रुप से अलग करना शामिल हो सकता है।
  • यह रियल लाइफ और ऑनलाइन दोनों में हो सकता है।
  • बुलइंग हर किसी के लिए हानिकारक और कंफ्यूज करने वाली हो सकती है।
  • यदि आप या आपके जानने वाले किसी व्यक्ति को तंग किया जा रहा हो, तो आप निम्नलिखित कार्य करने पर विचार कर सकते हैं:
  1. एक शांत और स्पष्ट आवाज़ में धमकाने को रोकने के लिए कहें - दूर हटो और दूर रहो।
  2. मौके पर बुलइंग को रोकने के लिए किसी बड़े की मदद लें ।
  3. अपने माता-पिता, शिक्षकों या एक विश्वसनीय बड़े से बात करें।

अब मुझे पता है

शुरू में अपने दम पर ट्यूशन क्लासेस में जाने को लेकर काफी उत्साहित था

शुरू में अपने दम पर ट्यूशन क्लासेस में जाने को लेकर काफी उत्साहित था। लेकिन फिर सिगरेट की यह घटना हुई। मैं कुछ दिनों तक बहुत चिंतित था। लेकिन भैया से बात करने से मदद मिली। उन्होंने कहा कि यह उनके साथ भी हो चुका है। और मुझे सिर्फ उस आदमी को दूर रहने के लिए कहना था। इस तरीके ने काम कर दिया! मुझे खुशी है कि मैं भैया से इन चीज़ों के बारे में बात कर सकता हूं।

कल विक्रांत सर ने उन लड़कों को कितने बढ़िया तरीके से कैसे शांत किया

कल विक्रांत सर ने उन लड़कों को कितने बढ़िया तरीके से कैसे शांत किया। मुझे खुशी है कि मैंने अपने स्कूल काउंसलर से बात करने का फैसला किया। उन्होंने मुझे कुछ हॉबी क्लासेस में शामिल होने में मदद की और मुझे अब ऐसे दोस्त मिल गए हैं जिनकी पसंद मुझसे मिलती है। यह एक बड़ी राहत है। मुझे अभी भी दार्जिलिंग की याद आती है लेकिन मैंने अपने नए स्कूल का आनंद लेना शुरू कर दिया है।

  सुरक्षित रहना - एक रिकैप 

  •  जैसे-जैसे हम बढ़ते हैं, हमें अपनी दिन-प्रतिदिन की गतिविधियों में और अधिक स्वतंत्र बनने की आवश्यकता होती है।
  • बड़े होने में कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ता है, जो बड़े होने के साथ आती हैं।
  •  उत्पीड़न में कोई भी व्यवहार शामिल होता है जो हमें असहज बनाता है।
  •   उत्पीड़न के खिलाफ बोलना और एक भरोसेमंद बड़े  के साथ  शेयर करना ज़रूरी  है।
  •  इंटरनेट दोस्तों के साथ सीखने और जुड़ने का एक मज़ेदार माध्यम है, हालाँकि, इसके कुछ खतरे भी हो सकते हैं।
  • ऑनलाइन सुरक्षित रहने के लिए साइबर सुरक्षा नियमों का पालन करना ज़रूरी है।
  •  ड्रग्स के सेवन का मतलब साइकोएक्टिव पदार्थों के हानिकारक उपयोग से है।
  •  एसटीडी / एसटीआई रोग और संक्रमण वह हैं जो असुरक्षित यौन गतिविधियों के कारण हो सकते हैं।
  • कभी-कभी हम कुछ ऐसा करने के लिए दबाव महसूस कर सकते हैं जिसे हम नहीं करना चाहते।
  •  हमें ऐसी परिस्थितियों से निपटने के लिए मना करने का साहस रखना चाहिए।
  •  हमें किसी भी कठिन परिस्थिति के बारे में माता-पिता, शिक्षकों या एक भरोसेमंद बड़े से बात करनी चाहिए। 

What's Your Reaction?

like
1
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0