नमस्ते 2021!

By: Shreya Mishra

नया साल अभी शुरू ही हुआ है और हमारे पास बात करने के लिए बहुत कुछ है! स्कूल फिर से खुल रहे हैं, व्हाट्सएप थोड़े लोहे के चने चबा रहा है, विरूष्का का बेबी आ गया है और एक टीनएजर ने इतिहास रच दिया है! तो चलिए शुरू करते हैं!

स्कूल चले हम!

स्कूल चले हम!

दिल्ली के स्कूल इस हफ्ते से खुल गए । और दस महीनों तक स्कूल से दूर रहने के बाद ये ज़रूर मज़ेदार होने वाला है,  हाहाहा! पर  हमें मालूम हैं की आप सब ऐसा नहीं सोचते! कुछ को तो इसका सदमा भी लगेगा! 

ये निश्चित रूप से एक खट्टा-मीठा अनुभव होने वाला है। हमारे पास फिर से एक मौका है अपने दोस्तों के साथ समय बिताने का पर क्योंकि परीक्षाएँ सर पर है, इसमें मेहनत भी डबल होगी!

तो हमारे दसवीं और बारहवीं  के दोस्तों के लिए बहुत सारी शुभकामनाएँ! अपना ध्यान रखें!

व्हाट्सएप के साथ क्या हुआ!

व्हाट्सएप के साथ क्या हुआ!

पासा पलटते देर नहीं लगती और इसका एक उम्दा उदाहरण हमे व्हाट्सएप  से मिला। दुनिया भर की अफवाहें जिस एप पर रोज़ फैलती हैं, वह खुद ही अफ़वाह का शिकार हो गया! 

हुआ यह, कि कुछ दिन पहले व्हाट्सएप  ने अपनी प्राइवेसी पॉलिसी बदलने की कोशिश की। मतलब की व्हाट्सएप पास हमारा जो डाटा है, वो व्हाट्सएप साथ  शेयर कर सकता है, किसके साथ नहीं, इसमें कुछ बदलाव किये।  

पर जैसे ही ये बात बाहर निकली, ग्रुप चैट और मीम में ये आग की तरह फ़ैल गयी और चारो तरफ़ बस यही अफ़वाह थी कि व्हाट्सऐप्प हमारी प्राइवेसी पूरी तरह से भंग करना चाहता है। यानी की हमारी सारी पर्सनल बातें पब्लिक हो जाएँगी। इस हद तक की व्हाट्सऐप्प को ये मामला खुद अपने हाथों में लेकर ये घोषणा करनी पड़ी की ये सब सिर्फ अफवाहें हैं!

अख़बार का पहला पन्ना या व्हाट्सएप स्टेटस, व्हाट्सएप के स्पष्टीकरण हर जगह थे। लेकिन जैसा कि आप जानते हैं कि सोशल मीडिया कभी-कभी निर्दयी हो सकता है और हज़ारों की तादाद में व्हाट्सएप को अनइंस्टाल कर दिया। व्हाट्सएप को थोड़ा पीछे हटना पड़ा और इसलिए उन्होंने अपने कस्टमर को इस पॉलिसी को समझने और स्वीकार करने के लिए कुछ समय देने का फैसला किया।

भले ही हम अभी तक इन्हे ढंग से ना समझ पाए हों प

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0